ICON

शिक्षा एवं उच्च शिक्षा को मुख्यमंत्री की सोगात

By Sarkaar 19-Mar-2021
Slide Images
आगामी वर्ष में प्रदेश में उच्च माध्यमिक स्तर के विद्यालयों में 11वीं व 12वीं कक्षा में 500 से अधिक छात्रायें अध्ययनरत होने पर उस विद्यालय को क्रमोन्नत करते हुए कन्या महाविद्यालय स्थापित किया जायेगा।

हदां (कोलायत)-बीकानेर, खमनोर (नाथद्वारा) - राजसमंद, रैणी- अलवर, बसवा (बांदीकुई) - दौसा, नोखड़ा (गुढ़ामालानी) बाड़मेर व ऋषभदेव (खैरवाड़ा)-उदयपुर में राजकीय महाविद्यालय तथा नोखा-बीकानेर में कन्या महाविद्यालय खोले जायेंगे। साथ ही, राजकीय महिला महाविद्यालय, मगरा पूंजला-जोधपुर में भवन निर्माण किया जायेगा।

जोधपुर, कोलायत-बीकानेर, बिलाडा-जोधपुर व सपोटरा करौली के राजकीय महाविद्यालयों को स्नातक (यू.जी.) से स्नातकोत्तर (पी.जी.) में क्रमोन्नत किया जायेगा।

राज्य स्तर पर शिक्षा निदेशालय के अंतर्गत उर्दू शिक्षण प्रकोष्ठ की स्थापना की जायेगी।

छठी व उससे उच्च कक्षाओं में 10 से अधिक विद्यार्थी होने पर उर्दू शिक्षक की पूर्ववत व्यवस्था जारी रखते हुए उर्दू शिक्षकों के सृजित 444 पदों को बढ़ाकर 1 हजार किया जाना प्रस्तावित है।

राजस्थान सरकार की महत्वपूर्ण सूचना पाने के लिए सरकार से जुड़े :
https://sarkaar.co.in/
About Sarkaar

Sarkaar

https://www.sarkaar.co.in
“सरकार” का मुख्य उद्देश्य डिजिटल संचार को बढ़ावा देना है, और साथ ही साथ राजस्थान सरकार के तमाम कामकाज को आम जन के बीच लेकर जाना है। इसके लिए राज्य स्तर पर एक डिजिटल मंच बनाया जा रहा है। जिसमें प्रदेश के विविध क्षेत्रों के लोग जुड़ सकेंगे, यह मंच राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं, विकास के कार्यों, सूचनाओं, घोषणाओं और जनहित में आदेशों को राज्य के आमजन तक प्रसारित करेगा।
Comments

Leave a Comment