ICON

मुख्यमंत्री ने की महिलाओं, एससी-एसटी के विरूद्ध अत्याचार के प्रकरणों की समीक्षा

By Sarkaar 22-Mar-2021
Slide Images
मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, पोक्सो एक्ट तथा एससी-एसटी एवं कमजोर वर्ग के विरूद्ध अत्याचार के मामलों में जांच त्वरित गति से पूरी हो एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय से लेकर सर्किल स्तर, थाने एवं पुलिस चौकी तक इन मामलों में संवेदनशीलता के साथ अनुसंधान कर परिवादी को समय पर न्याय दिलाया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस पर आम जनता की सुरक्षा की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। हाल ही में कुछ घटनाएं सामने आई हैं, उनमें पुलिस अधिकारियों के खिलाफ ही महिला अत्याचार के गंभीर प्रकरण दर्ज हुए हैं। उन्होंने ऎसे प्रकरणों में शामिल पाए जाने पर सम्बन्धित पुलिस अधिकारी अथवा पुलिस कार्मिक के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

श्री गहलोत ने कहा कि पुलिस अधिकारी बिना किसी दबाव के भयमुक्त होकर कार्य करें ताकि पीड़ित को त्वरित न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारी अनुसंधान के दौरान तथ्यों के आधार पर मामले की तह तक जाएं और जांच के दौरान किसी तरह के पूर्वाग्रह के साथ कार्य नहीं करें। उन्होंने कहा कि कुछ प्रमुख घटनाओं में कम से कम समय में जांच पूरी कर कोर्ट में चालान पेश कर अपराधियों को सजा दिलाई गई। ऎसे प्रकरणों में पुलिस टीम की हौसला अफजाई की जाए। उन्होंने थानों में सीसीटीवी लगाने की प्रक्रिया भी शीघ्र पूरी करने को कहा।

राजस्थान सरकार की महत्वपूर्ण सूचना पाने के लिए सरकार से जुड़े :
https://sarkaar.co.in/
About Sarkaar

Sarkaar

https://www.sarkaar.co.in
“सरकार” का मुख्य उद्देश्य डिजिटल संचार को बढ़ावा देना है, और साथ ही साथ राजस्थान सरकार के तमाम कामकाज को आम जन के बीच लेकर जाना है। इसके लिए राज्य स्तर पर एक डिजिटल मंच बनाया जा रहा है। जिसमें प्रदेश के विविध क्षेत्रों के लोग जुड़ सकेंगे, यह मंच राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं, विकास के कार्यों, सूचनाओं, घोषणाओं और जनहित में आदेशों को राज्य के आमजन तक प्रसारित करेगा।
Comments

Leave a Comment