ICON

कोविड की विषम परिस्थितियों में मुख्यमंत्री का संवेदनशील निर्णय

By Sarkaar 01-May-2021
Slide Images

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कोविड-19 महामारी से उपजी विषम परिस्थितियों में भी कनिष्ठ लिपिक भर्ती-2018 के बेरोजगार आशार्थियों को नियुक्ति देने की दिशा में एक संवेदनशील निर्णय किया है। मुख्यमंत्री ने इस भर्ती परीक्षा की प्रतीक्षा सूची में शामिल 689 अभ्यर्थियों को वरीयता एवं मेरिट के आधार पर विभाग आवंटित कर नियुक्ति देने की मंजूरी दी है। 

श्री गहलोत की इस स्वीकृति से वेटिंग लिस्ट में शामिल इन अभ्यर्थियों को कनिष्ठ लिपिक के पद पर राजकीय सेवा में नियुक्ति का अवसर मिलेगा। मुख्यमंत्री के इस निर्णय के बाद प्रशासनिक सुधार विभाग ने अभ्यर्थियों से विकल्प मांगकर उन्हें विभाग आवंटित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। 

श्री गहलोत के निर्णय के अनुसार, प्रदेश के गैर अनुसूचित (नॉन टीएसपी) क्षेत्र के 690 तथा अनुसूचित (टीएसपी) क्षेत्र के 13 सहित कुल 703 सफल अभ्यर्थियों द्वारा निर्धारित अवधि में कार्यग्रहण नहीं करने पर प्रतीक्षा सूची में से गैर अनुसूचित क्षेत्र के 677 तथा अनुसूचित क्षेत्र के 12 सहित कुल 689 अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने की कार्यवाही प्रस्तावित है।  


राजस्थान सरकार की महत्वपूर्ण सूचना पाने के लिए सरकार से जुड़े : https://sarkaar.co.in/


About Sarkaar

Sarkaar

https://www.sarkaar.co.in
“सरकार” का मुख्य उद्देश्य डिजिटल संचार को बढ़ावा देना है, और साथ ही साथ राजस्थान सरकार के तमाम कामकाज को आम जन के बीच लेकर जाना है। इसके लिए राज्य स्तर पर एक डिजिटल मंच बनाया जा रहा है। जिसमें प्रदेश के विविध क्षेत्रों के लोग जुड़ सकेंगे, यह मंच राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं, विकास के कार्यों, सूचनाओं, घोषणाओं और जनहित में आदेशों को राज्य के आमजन तक प्रसारित करेगा।
Comments

Leave a Comment