ICON

बाल श्रम मुक्त राजस्थान की संकल्पना संयुक्त प्रयास से होगी साकार

By Sarkaar 18-Aug-2021
Slide Images

मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य ने कहा कि स्वतन्त्रता के 75 वर्षो के उपरांत भी बाल श्रम की कुरीति आज भी हमारे समक्ष सामाजिक चुनौती बनकर खड़ी है। बाल श्रम मुक्त राजस्थान बनाने के लिए हमें सरकार के साथ सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से संयुक्त प्रयास कर संकल्पना को साकर करना होगा।

मुख्य सचिव ने कहा कि बाल श्रम उन्मूलन के लिए सर्वप्रथम बाल श्रमिकों का चिन्हीकरण करने की आवश्यकता है। इसके बाद उनका व्यावहारिक तौर पर पुनर्वास करना चुनौती है।  मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि बंधुआ मजदूरी और घरेलू बाल मजदूरी पर प्रतिबंध लगाने के लिए उद्योगों घरों एवं प्रतिष्ठानों को चिन्हित करने के लिए सर्वे करें। उन्होंने सामाजिक संस्थाओं के सहयोग की सराहना करते हुए बचपन बचाओ आंदोलन के प्रतिनिधियों से प्राप्त सुझावों पर चर्चा की।  मुख्य सचिव ने  कहा कि सभी जिला कलक्टर पूरी संवेदनशीलता के साथ विभागों के समन्वय से बाल श्रम मुक्ति का प्रयास करें।

राजस्थान सरकार की महत्वपूर्ण सूचना पाने के लिए सरकार से जुड़े https://sarkaar.co.in/


About Sarkaar

Sarkaar

https://www.sarkaar.co.in
“सरकार” का मुख्य उद्देश्य डिजिटल संचार को बढ़ावा देना है, और साथ ही साथ राजस्थान सरकार के तमाम कामकाज को आम जन के बीच लेकर जाना है। इसके लिए राज्य स्तर पर एक डिजिटल मंच बनाया जा रहा है। जिसमें प्रदेश के विविध क्षेत्रों के लोग जुड़ सकेंगे, यह मंच राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं, विकास के कार्यों, सूचनाओं, घोषणाओं और जनहित में आदेशों को राज्य के आमजन तक प्रसारित करेगा।
Comments

Leave a Comment